• Fri. Sep 29th, 2023

Anant Clinic

स्वस्थ रहें, मस्त रहें ।

कोरोना के खिलाफ जारी जंग में ‘मोदी-मंत्र’

Byanantclinic0004

Apr 4, 2020
कोरोना के खिलाफ जारी जंग में एक और मोदी - मंत्र | कोरोना को हराना है
Image Source : FILE 
कोरोना महामारी के खिलाफ प्रधानमंत्री मोदी ने लॉक डाउन के नौवें दिन एक बार फिर देशवासियों को एक वीडियो संदेश के जरिए संबोधित किया। जिसमें उन्होंने एक बार फिर देशवासियों में नई ऊर्जा का संचार किया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के दिन शाम को देशवासियों के द्वारा किए गए धन्यवाद का जिक्र करते हुए कहा कि वह एक सराहनीय कदम था, जिसका आज कई देश अनुसरण कर रहे हैं। उन्होंने सभी देशवासियों की तारीफ करते हुए कहा की शासन-प्रशासन, जनता जनार्दन सभी ने लॉकडाउन में अपना सहयोग दिया है, और इसको सफल बनाने का प्रयास निरंतर जारी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संदेश की कुछ हम बातें –

 1 – पीएम मोदी जी ने कहा कि 5 अप्रैल को रात 9:00 बजे मैं आप सबके 9 मिनट चाहता हूं।
 2 –  कोरोना महामारी से पहले फैले अंधकार के बीच हमें निरंतर प्रकाश की ओर जाना है।
 3 – 5 अप्रैल को हमें मिलकर कोरोना के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है।
4 – रविवार, 5 अप्रैल, को रात 9:00 बजे 9 मिनट तक अपने घर की बत्तियां बंद रखें, घर के दरवाजे बालकनी में मोमबत्ती, दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाएं।
 5 – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने कहा, कि हमारे उत्साह हमारे संकल्प से बड़ी शक्ति दुनिया में कोई दूसरी नहीं है।
 6 – 130 करोड़ देशवासियों की सामूहिक शक्ति हर व्यक्ति के साथ है, उस समय हम यह समझे और यह माने कि कोरोना से लड़ाई में कोई भी अकेला नहीं है, हम सब साथ हैं।
7 – सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा को कभी नहीं लांघना है।
 8 – सोशल डिस्टेंसिंग कोरोनावायरस की चेन तोड़ने का रामबाण इलाज है।
असम के पूर्व डीजीपी, शारदा प्रसाद ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि 5 अप्रैल को रात 9:00 बजे 9 मिनट के लिए दिए जलाने के लिए मोदी जी ने ऐसे ही नहीं कहा, इसके पीछे पूरा अध्यात्म काम करता है, इस पर उन्होंने अपने तर्क रखते हुए कहा कि 9 पूर्णता का प्रतीक है, हम नवरात्रि में नव दुर्गा की पूजा करते हैं, इसी तरह नवग्रह होते हैं, और इसके साथ ही हम नवरत्न भी धारण करते हैं, कहने का मतलब 9 के इस आंकड़े का अपने आपने में एक आध्यात्मिक महत्व भी है।

इसीलिए जब हम 5 अप्रैल को रात 9:00 बजे 9 मिनट के लिए एक साथ दीए जलाएंगे, तो एक सामूहिक शक्ति का फैलाव चारों तरफ होगा, और जो लॉकडाउन की वजह से हम में से बहुत से लोग अकेलापन महसूस कर रहे हैं, या जीवन में नीरसता महसूस कर रहे हैं, उसका नाश करने में यह सामूहिक शक्ति या फिर यूं कहें यह प्रकाश पर्व बड़ी अहम भूमिका अदा करेगा। चारों तरफ एक सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा जो हमें इस महामारी से लड़ने के लिए शक्ति प्रदान करेगा।

इम्यूनिटी क्या है इसे कैसे बढ़ाएं ? <click here>

कोरोनावायरस: आज 50 वां पृथ्वी दिवस धरती- क्या चाहती है आपसे<click here>

दोस्तों इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि सभी को इसके बारे में पता लग जाए, और 5 अप्रैल को हम सब मिलकर रात 9:00 बजे 9 मिनट तक ‘प्रकाश पर्व’ मनाए और इस कोरोना रूपी अंधकार को दूर भगाएं।

(Visited 1 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *