• Wed. May 22nd, 2024

Anant Clinic

स्वस्थ रहें, मस्त रहें ।

फिटकरी के फायदे नुकसान और सेवन विधि | fitkari uses in hindi

Byanantclinic0004

Feb 23, 2020
फिटकरी के फायदे नुकसान, गुण, उपयोग और सेवन विधि | fitkari uses in hindi | fitkari benefits in hindi | फिटकरी के लाभ | फिटकरी के फायदे | फिटकरी के लाभ और हानि | फिटकरी के फायदे, नुकसान | फिटकरी के नुकसान | फिटकरी की कीमत | फिटकरी के फायदे बताओ हिन्दी में।



परिचय 

फिटकरी (Alum), एक रंगहीन, क्रिस्टलीय पदार्थ हैं। साधारण फिटकरी का रासायनिक नाम पोटाश एलम(KAl(SO4)2.12H2O) होता हैं। (AB(SO4)2.12H2O) इम्पीरिकल सूत्र वाले सामान्य यौगिकों को ‘एलम’ (Alums) नाम से जाना जाता है।
फिटकरी को अंग्रेजी में पोटाश ऐलम या केवल ऐलम भी कहते हैं। यह पोटेशियम सल्फेट और एलुमिनियम सल्फेट का द्विलवण है, इसके चर्तुफलकीय क्रिस्टल में क्रिस्टलीय जल के २४ अणु रहते हैं। इसके क्रिस्टल अत्यंत सरलता से बनते हैं।

यह भी पढ़ें – ब्लैक फंगस क्या है लक्षण और उपचार

फिटकरी के फायदे नुकसान, गुण, उपयोग और सेवन विधि | fitkari uses in hindi 

 
१ – फिटकरी हमारी सेहत के लिए भी कई तरह से फायदेमंद है इसमें मौजूद मैग्निशियम सल्फेटब्रेन टिशु बनाने में एक अहम रोल निभाता है।


यह भी पढ़ें – हमारी किडनी ख़राब होने के शुरुआती 3 लक्षण 


२ – फिटकरी एक बहुत अच्छा एंटीसेप्टिक है अतः इसे किसी भी घाव को साफ करने के लिए यूज़ किया जा सकता है।

३ – पोटाश ऐलम का उपयोग रक्त को थक्का बनाने के लिए किया जाता है। आमतौर पर पुरुष सेविंग बनाने के बाद चेहरे पर एक एंटीसेप्टिक के रूप में लगाते हैं।

४ – भुनी हुई फिटकरी शहद में मिलाकर चाटने से खांसी दूर होती है।





५ – मुंह में छाले होने पर भुनी हुई फिटकरी, इलायची के दाने और कत्था को एक साथ पीसकर लगाएं, आराम मिलेगा।

६ – दांत में दर्द होने पर भुनी हुई फिटकरी, सरसों का तेल और सेंधा नमक मिलाकर दर्द वाली जगह पर लगाने से लाभ होता है।

यह भी पढ़ें –भाप लेने के फायदे और नुकसान

७ – चोट लगने पर पानी में फिटकरी मिलाकर घोल बना लें और इसे दिन में दो-तीन बार चोट वाली जगह साफ करें जल्दी आराम आएगा।

८ – रात को सोने से पहले फिटकरी के टुकड़े को ठंडे पानी से गीला कर हल्के हाथों से चेहरे पर रगड़े और सूखने पर चेहरा धोकर मॉयश्चराइजर लगा लें ऐसा करने से झुर्रियां भी दूर होंगी और स्किन भी ग्लो करेगी।

९ – स्त्रियों में सफेद पानी की समस्या होना एक आम बात है सफेद पानी में भी फिटकरी का उपयोग अत्यंत लाभकारी है।

१० – फिटकरी का उपयोग कागज उद्योग, रंग साजी, छींट की छपाई, पेयजल के शोधन और चमड़ा बनाने आदि जैसे कामों में भी होता है।

११ – सोलहवीं शताब्दी में फिटकरी मिलाकर त्वचा को सफेद बनाने वाला पदार्थ भी बनाया जाता था।

फिटकरी के फायदे नुकसान, गुण, उपयोग और सेवन विधि | fitkari uses in hindi  | fitkari benefits in hindi | फिटकरी के लाभ | फिटकरी के फायदे | फिटकरी के लाभ और हानि | फिटकरी के फायदे, नुकसान | फिटकरी के नुकसान | फिटकरी की कीमत | फिटकरी के फायदे बताओ हिन्दी में।
fitkari uses in hindi



फिटकरी के नुकसान | side effects of fitkari


घरेलू दवाओं में फिटकरी अपूर्व लाभ करने वाली एक चमत्कारी औषधि है और यह आसानी से बाजार में मिल भी जाती है। अतएव, यहाँ पर इसके गुण धर्म के वर्णन में कच्ची फिटकरी के उपयोगों का वर्णन आपके लाभार्थ के लिए किया गया है। आयुर्वेद सार संग्रह में भी इससे होने वाले किसी भी प्रकार के नुकसान का वर्णन नहीं किया गया है, अतः हम कह सकते हैं कि यह पूर्णतया सुरक्षित और गुणकारी औषधि है।

विशेष नोट – 

अपने आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श के बाद ही इसका सेवन करें
 

ध्यान दें –
 
ज्यादातर वैद्य गण फिटकरी को शुद्ध करके स्फटिका भस्म बनाकर ज्यादातर प्रयोग मे लाते हैं। इसको शुद्ध करने और भस्म बनाने पर इसके गुणों मे अत्याधिक बढ़ोतरी होती है। जिसका वर्णन हमने हमारे दूसरे ब्लॉग मे किया है आप उसे भी अवस्य पढ़ें।

यह भी पढ़ें –  धातु पौष्टिक चूर्ण के फायदे, गुण और उपयोग।



अनुरोध –
दोस्तों  फिटकरी  के बारे में आपको हमारा यह ब्लॉग कैसा लगा पसंद आया हो तो कमेंट करके जरूर बताएं और साथ ही यह भी बताएं कि आप और किन विषयों पर ब्लॉग चाहते हैं, जल्दी ही हम इस विषय पर भी ब्लॉग  लेकर आएंगे।
            सुस्वागतम।



(Visited 195 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *